NPCI ने भूटान में लांच की BHIM UPI


भूटान अपने QR कोड के लिए भारत के एकीकृत भुगतान इंटरफेस ((UPI) मानकों को अपनाने वाला पहला देश बन गया है।

मुख्य बिंदु

  • सिंगापुर के बाद भूटान व्यापारिक स्थानों पर BHIM-UPI को स्वीकार करने वाला दूसरा देश बन गया है।
  • भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) की अंतर्राष्ट्रीय शाखाजिसे NPCI International Payments Ltd. (NIPL) कहा जाता है, ने भूटान में BHIM UPI QR–आधारित भुगतानों को लागू करने के लिए भूटान के Royal Monetary Authority (RMA) के साथ साझेदारी की घोषणा की।
  • भूटान रुपे कार्ड जारी करने और स्वीकार करने और BHIM-UPI को स्वीकार करने वाला एकमात्र देश बन जाएगा।

महत्व

BHIM-UPI  फिनटेक के क्षेत्र में भारत की एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। कोविड-19 प्रेरित लॉकडाउन के दौरान, BHIM-UPI भुगतान का एक प्रभावी तंत्र बन गया। 2020-21 में, इसने 41 लाख करोड़ रुपये के 22 अरब वित्तीय लेनदेन को प्रोसेस किया। NPCI  और RMA के बीच इस साझेदारी से भारत के 2,00,000 पर्यटकों को लाभ होगा जो हर साल भूटान की यात्रा करते हैं।

NPCI

NPCI भारत में खुदरा भुगतान और निपटान प्रणाली के संचालन में शामिल एक छत्र संगठन है। इसे भारतीय रिजर्व बैंक और भारतीय बैंक संघ द्वारा एक मजबूत भुगतान और निपटान बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए लॉन्च किया गया था।

भारत इंटरफेस फॉर मनी (BHIM)

यह भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) द्वारा विकसित एक भारतीय मोबाइल भुगतान एप्प है। यह यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) पर आधारित है और इसका नाम बी.आर. अंबेडकर के नाम पर रखा गया है। इसे 30 दिसंबर 2016 को लॉन्च किया गया था। यह एप्प सीधे बैंकों के माध्यम से ई-भुगतान की सुविधा देता है और सभी भारतीय बैंकों का समर्थन करता है जो यूपीआई का उपयोग करते हैं।

एकीकृत भुगतान इंटरफेस (Unified Payments Interface – UPI)

UPI को Immediate Payment Service (IMPS) के बुनियादी ढांचे पर बनाया गया है जो यूजर को वास्तविक समय में तुरंत धन हस्तांतरित करने की अनुमति देता है। यह यूजर को अन्य पार्टी को बैंक खाते के विवरण का खुलासा किए बिना कई बैंक खातों में धन हस्तांतरित करने की अनुमति देता है।

Categories: अर्थव्यवस्था करेंट अफेयर्स

Tags:BHIM , BHIM UPI , NPCI , Unified Payments Interface , एकीकृत भुगतान इंटरफेस , भारत इंटरफेस फॉर मनी , हिंदी करेंट अफेयर्स



Source link

Leave a Comment