भारत का विदेशी मुद्रा भंडार (India’s Forex Reserve) 639.516 अरब डॉलर पर पहुंचा


8 अक्टूबर, 2021 को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 2.039 अरब डॉलर की वृद्धि के साथ 639.516 अरब डॉलर पर पहुँच गया है। विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत चौथे स्थान पर है, इस सूची में चीन पहले स्थान पर है।

विदेशी मुद्रा भंडार                                     

इसे फोरेक्स रिज़र्व या आरक्षित निधियों का भंडार भी कहा जाता है भुगतान संतुलन में विदेशी मुद्रा भंडारों को आरक्षित परिसंपत्तियाँ’ कहा जाता है तथा ये पूंजी खाते में होते हैं। ये किसी देश की अंतर्राष्ट्रीय निवेश स्थिति का एक महत्त्वपूर्ण भाग हैं। इसमें केवल विदेशी रुपये, विदेशी बैंकों की जमाओं, विदेशी ट्रेज़री बिल और अल्पकालिक अथवा दीर्घकालिक सरकारी परिसंपत्तियों को शामिल किया जाना चाहिये परन्तु इसमें विशेष आहरण अधिकारों , सोने के भंडारों और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की भंडार अवस्थितियों को शामिल किया जाता है। इसे आधिकारिक अंतर्राष्ट्रीय भंडार अथवा अंतर्राष्ट्रीय भंडार की संज्ञा देना अधिक उचित है।

8 अक्टूबर,  2021 को विदेशी मुद्रा भंडार

विदेशी मुद्रा संपत्ति (एफसीए): $577.001 बिलियन
गोल्ड रिजर्व: $38.022 बिलियन
आईएमएफ के साथ एसडीआर: $19.268 बिलियन
आईएमएफ के साथ रिजर्व की स्थिति: $5.225 बिलियन

Categories: अर्थव्यवस्था करेंट अफेयर्स

Tags:2022 IAS Current Affairs in Hindi , Hindi Current Affairs , Hindi Current Affairs for SSC , Hindi News , India’s Forex Reserve 2021 , UPSC Hindi Current Affairs , विदेशी मुद्रा भंडार



Source link

Subscribe to Our YouTube Channel

Follow Us

My Revolution parts

Subscribe to our YouTube channel