My RevolutionPARTs

आयुष्मान भारत-डिजिटल मिशन: सभी चिकित्सा सुविधाओं का डिजिटल पंजीकरण शुरू हुआ


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्वास्थ्य रिकॉर्ड को डिजिटल बनाने के लिए आयुष्मान भारत-डिजिटल मिशन (Ayushman Bharat-Digital Mission) के तहत सभी चिकित्सा सुविधाओं और सभी डॉक्टरों का डिजिटल पंजीकरण शुरू किया है।

आयुष्मान भारत-डिजिटल मिशन (Ayushman Bharat Digital Mission)

  • आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन 27 सितंबर, 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लॉन्च किया गया था।
  • इस मिशन के तहत प्रत्येक भारतीय को एक विशिष्ट स्वास्थ्य आईडी प्रदान की जाएगी जो एक स्वास्थ्य खाते के रूप में भी काम करेगी, जिसके साथ व्यक्तिगत स्वास्थ्य रिकॉर्ड को जोड़ा जा सकता है।
  • नागरिक एक क्लिक से स्वास्थ्य सुविधाओं तक पहुंच सकेंगे।

मिशन की विशेषताएं

1. स्वास्थ्य आईडी

इस मिशन के तहत हर नागरिक को हेल्थ आईडी जारी की जाएगी, जो उनके स्वास्थ्य खाते का काम करेगी। उनके स्वास्थ्य खाते में परीक्षण, बीमारी, ली गई दवाओं और निदान का विवरण होगा। यह नि:शुल्क प्रदान की जाएगी और स्वैच्छिक होगी। यह कार्ड स्वास्थ्य डेटा का विश्लेषण करने में मदद करेगा और बेहतर योजना, बजट और कार्यान्वयन की ओर ले जाएगा।

2. स्वास्थ्य सुविधाएं और पेशेवरों की रजिस्ट्री

यह प्रोग्राम हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स रजिस्ट्री (HPR) और हेल्थकेयर फैसिलिटीज रजिस्ट्री (HFR) बनाएगा, ताकि हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर और मेडिकल प्रोफेशनल्स तक आसान इलेक्ट्रॉनिक एक्सेस की अनुमति मिल सके।

3.  आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन सैंडबॉक्स (Ayushman Bharat Digital Mission Sandbox)

मिशन के तहत सैंडबॉक्स मिशन को क्रेट किया जाएगा। यह प्रौद्योगिकी और उत्पाद परीक्षण के लिए एक रूपरेखा के रूप में कार्य करेगा।

कार्यान्वयन एजेंसी 

यह मिशन स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के तहत राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (National Health Authority – NHA) द्वारा कार्यान्वित किया जाएगा।

Categories: राष्ट्रीय करेंट अफेयर्स

Tags:Ayushman Bharat Digital Mission , Ayushman Bharat Digital Mission Sandbox , Hindi Current Affairs , National Health Authority , NHA , आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन



Source link

Subscribe to Our YouTube Channel

Follow Us

Related Posts

My Revolution parts

Subscribe to our YouTube channel