My RevolutionPARTs

अमेरिका ने हाइपरसोनिक मिसाइल प्रौद्योगिकी का सफल परीक्षण किया


अमेरिका ने 20 अक्टूबर, 2021 को हाइपरसोनिक मिसाइल तकनीक का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है।

मुख्य बिंदु 

  • हाइपरसोनिक मिसाइल प्रौद्योगिकी एक नई हथियार प्रणाली है जिसे पहले से ही रूस और चीन द्वारा तैनात किया जा रहा है।
  • यह परीक्षण वर्जीनिया के वॉलॉप्स में नासा की फैसिलिटी में आयोजित किया गया था।
  • यह नौसेना द्वारा डिज़ाइन की गई सामान्य हाइपरसोनिक मिसाइल के विकास में एक महत्वपूर्ण कदम है।
  • पारंपरिक बैलिस्टिक मिसाइल जैसी हाइपरसोनिक मिसाइलें ध्वनि की गति से पांच गुना यानी मैक 5 की गति से उड़ सकती हैं।

चीन की हाइपरसोनिक मिसाइल

चीन ने अगस्त, 2021 में परमाणु क्षमता वाली हाइपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण किया था। चीन की हाइपरसोनिक मिसाइल ने लैंडिंग से पहले पृथ्वी का एक चक्कर पूरा किया। हालांकि, यह अपने लक्ष्य से चूक गयी थी। चीन ने वर्ष 2019 में “DF-17” नामक हाइपरसोनिक मध्यम दूरी की मिसाइल लॉन्च की थी। यह हाइपरसोनिक मिसाइल लगभग 2000 किलोमीटर की यात्रा कर सकती है और परमाणु हथियार ले जा सकती है।

रूस की हाइपरसोनिक मिसाइल

रूस ने हाल ही में जिरकोन नामक एक हाइपरसोनिक मिसाइल भी लॉन्च की। इसे एक पनडुब्बी से लॉन्च किया गया था। 2019 के अंत से इसकी सेवा में अवानगार्ड मिसाइलें भी हैं। अवानगार्ड 27 मैक तक की गति से यात्रा कर सकता है।

Categories: विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी करेंट अफेयर्स

Tags:DF-17 , Hindi Current Affairs , Hindi News , Hypersonic Missiles , अवानगार्ड , हाइपरसोनिक मिसाइल , हिंदी समाचार



Source link

Subscribe to Our YouTube Channel

Follow Us

Related Posts

My Revolution parts

Subscribe to our YouTube channel